इस अभिनेत्री ने फिल्मों में ‘माँ’ बन कर जीता था सबका दिल, निरूपा राय को असल जिंदगी में अपने ही बच्चों से मिला था ‘गम’…!

बॉलीवुड के मशहूर फ़िल्म दीवार में शशि कपूर का मशहूर डायलॉग “मेरे पास मां है” तो आपको याद ही होगा! फिल्म में अमिताभ बच्चन भी थे। फिल्म में अमिताभ और शशि की मां बनी अभिनेत्री निरूपा राय को अच्छी स्क्रीन अपीरियंस मिली थी और उनके काम को सराहा गया था।

उन्हें बॉलीवुड की मां के तौर पर जाना जाता है। उन्होंने ज्यादातर मां के रोल ही किए हैं। एक बेबस और लाचार मां के किरदार में उन्हें खूब पसंद किया गया। रील लाइफ में जहां निरूपा राय को अपने बेटों द्वारा खूब प्यार मिला वही रियल लाइफ में उन्हें अपने बेटे द्वारा काफी दुख भी मिला।

गुजरात के वलसाड में हुआ था जन्म-: निरूपा राय का जन्म 4 जनवरी 1931 को गुजरात के वलसाड में हुआ था। बहुत कम उम्र में ही इनकी शादी कमल रॉय के साथ कर दी गई थी। दोनों पति पत्नी साथ ही मुंबई भी (तब बंबई) आ गई। एक दिन निरूपा राय ने अखबार में एक इश्तिहार देखा और ऑडिशन देने प्रोडक्शन हाउस पहुंच गई।

इस फिल्म के लिए उनके पति कमल रॉय भी ऑडिशन देने पहुंचे थे। लेकिन कमल रॉय को ऑडिशन से रिजेक्ट कर दिया गया और निरूपा राय को मुख्य भूमिका के लिए चुन लिया गया। लेकिन बाद में वह रोल निरूपा राय से छीन कर अभिनेत्री अंजना को दे दिया गया।

असल जिंदगी में झेलीं तकलीफें-: एक ओर फिल्मों में बेबस गरीब और लाचार मां का केदार करते-करते निरूपा राय ने धीरे-धीरे मेहनत करते हुए करोड़ों की प्रॉपर्टी खड़ी कर ली। 2004 में उनके देहांत के बाद उनके दो बेटों में प्रॉपर्टी को लेकर खूब लड़ाई झगड़े हुए।

बेटे करते थे टॉर्चर-: निरूपा राय के बेटे करण राय ने बताया कि उनके भाई योगेश मम्मी पापा को काफी टॉर्चर करते थे और उन्हें शारीरिक रूप से चोट पहुंचाते थे। इसी वजह से पापा सारी प्रॉपर्टी मेरे नाम करके गए हैं। योगेश को मम्मी पापा के साथ घर में रहने की इजाजत थी लेकिन उनके कमरे में प्रवेश करने की इजाजत नहीं थी। यही नहीं योगेश की पत्नी भी मम्मी पापा को काफी टॉर्चर करते थी।

यह भी पढ़ें-: