अगर आप भी जोड़ों के दर्द से हैं परेशान तो आज ही अपनाएं यह 6 घरेलू नुस्खे, मिलेगी राहत

हमारे आयुर्वेद में हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के तमाम उपाय और विधियां बताई गई हैं। अगर आदमी पूरी तरह आयुर्वेद की पद्धति को फॉलो करें तो बहुत कम ही चांसेस है कि वह जीवन में कभी बीमार पड़ेगा। आयुर्वेद में हमारे शरीर को कई चीजों को जरूरी बताया गया है और जो चीजें नुकसानदायक हैं उन्हें निषेध भी बताया गया है। आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि कैसे आप घर बैठे अपने जोड़ों के दर्द का घरेलू नुस्खों द्वारा इलाज कर सकते हैं. (these-6-home-remedies-eliminate-joint-pain-from-the-root-knee-pain-will-be-removed-in-a-pinch)

these-6-home-remedies-eliminate-joint-pain-from-the-root-knee-pain-will-be-removed-in-a-pinch

मेथी के दाने-: मेथी के दाने को आयुर्वेद में लगभग रामबाण माना गया है। यह कई बीमारियों की एक दवा है। अगर आप जोड़ों के दर्द से परेशान हैं तो आधा चम्मच मेथी दाने को सुबह शाम हल्के गुनगुने पानी से खाएं। यह बहुत कड़वी होती है लेकिन जोड़ों के दर्द के लिए रामबाण दवा है। इसके अलावा मधुमेह के रोगियों को इसका सेवन निश्चित तौर पर करना चाहिए।

हल्दी दूध-: आप सभी में कई ऐसे होंगे जिन्होंने बचपन में बहुत मार खाई होगी और उसके बाद हल्दी दूध पिया होगा। हल्दी दूध को हमारे आयुर्वेद में अमृत के समान माना गया है। अगर आप जोड़ों के दर्द से परेशान हैं तो एक गिलास गुनगुने दूध में एक औंस हल्दी पाउडर मिलाकर पीएं इससे जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है। अगर दूध के साथ कच्ची हल्दी मिलाकर पी जाए तो यह और भी तेज़ असर करता है।

अदरक-: अदरक हमारे किचन का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। बिना अदरक की चाय का स्वाद नहीं आता। लेकिन यह अदरक हमारे जोड़ों के दर्द में भी बहुत लाभदायक है। इतना ही नहीं अदरक का सेवन हमारे लिए सर्दी, खांसी, गले में खराश इत्यादि के लिए भी लाभदायक है।

these-6-home-remedies-eliminate-joint-pain-from-the-root-knee-pain-will-be-removed-in-a-pinch

एलोवेरा-: एलोवेरा शरीर को कई प्रकार से फायदे पहुंचाता है। इसका रस चेहरे पर लगाने से चेहरा कांतिमय बनता है और इसका रस हमारे पाचन तंत्र को सुव्यवस्थित भी करता है। जोड़ों के दर्द से निजात पाने के लिए एलोवेरा के गूदे को निकालकर उस में हल्दी मिलाकर जोड़ों पर बांधना चाहिए।इसे आराम मिलता है।

तुलसी का रस-: तुलसी के रस को आयुर्वेद में मेथी के दाने के समान रामबाण इलाज माना गया है। अगर आप सुबह पांच बूंद तुलसी का रस हल्के गुनगुने पानी में पियें तो आपको कभी भी जोड़ों के दर्द की समस्या नहीं होगी।

शहद घी और त्रिफला का पाउडर-: इस तिकड़ी को आयुर्वेद में जोड़ों के दर्द का सबसे बड़ा दुश्मन माना गया है। आधे चम्मच त्रिफला के पाउडर में एक चम्मच शहद मिलाएं और लगभग उतना ही देसी घी मिलाएं। सुबह शाम हल्के गुनगुने पानी से इसका सेवन करें। इससे जोड़ों के दर्द में फौरी राहत मिलती है।

नोट -: उपरोक्त सभी जानकारियां आम जनमानस के रुचि को ध्यान में रखकर इंटरनेट से संकलित की गई हैं। उपरोक्त बताई गई विधियों का इस्तेमाल करने से पहले किसी अनुभवी वैद्य या डॉक्टर से सलाह अवश्य लेवें।