शिक्षक पिता ने दो बेटियों की ह’त्या कर लगाई फांसी, सुसाइड नोट में किया चौंकाने वाला खुलासा

वैसे तो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आए दिन कुछ ना कुछ ऐसी खबरें देखने और सुनने को मिलती है जिसे जानने के बाद हम आश्चर्य हो जाते हैं. एक ऐसा ही मामला उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में से आया है जहां एक शिक्षक पिता ने अपने दो मासूम बेटियों की गला दबाकर ह’त्या कर दी और उसके पश्चात खुद फांसी लगाकर अपनी जान दे दी.

इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया है. घटना की सुबह जब बच्चे शिक्षक के घर कोचिंग पढ़ने आए तो काफी देर दरवाजा नहीं खुलने पर आसपास बच्चों को बाहर खड़ा देख मौके पर इकट्ठे हो गए. इसके बाद पास ही किराए पर रह रहे सिपाहियों को घटना की जानकारी दी. जब उन्होंने दरवाजा तोड़ा जिसके बाद अंदर का नजारा देख सभी लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई.

पिता ने बेटियों की ह’त्या कर लगाई फांसी

मिली जानकारी के मुताबिक मऊ दरवाजा थाने के पीछे बहादुरगंज निवासी सुनील जाटव एक निजी स्कूल में शिक्षा का कार्य करते थे. वह अपने घर पर बच्चों को कोचिंग भी पढ़ाया करते थे. रोज की तरह शुक्रवार को भी जब बच्चे कोचिंग पढ़ने आए तो उन्हें घर का गेट खुला नहीं मिला. कोचिंग पढ़ने आए बच्चों को खड़ा देख ऊपरी मंजिल पर रह रहे परिजनों और आसपास के लोग इकट्ठे हो गए. अनहोनी की आशंका पर जब गेट का दरवाजा तोड़ा गया तो सुनील जाटव का शव प्लास्टिक की रस्सी से छत के कुंडे पर लटका था उनकी दोनों बेटियां सृष्टि (12) और शगुन (8) बेड पर मृत पाई गई,

मृ’तक के कमरे से पुलिस को मिला सुसाइड नोट

घटना की मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. बताया जा रहा है कि सुनील की करीब 6 महीने पहले सुनील की पत्नी की मौत मायके में हो गई थी. जानकारी होने पर एसपी ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल की.

पुलिस के अनुसार मृ’तक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें यह लिखा है कि वह अपनी पत्नी प्रीति के बिना नहीं रह सकता इसलिए पुलिस आशंका जता रही है कि पहले बेटियों को मारकर युवक ने खुद फांसी लगाई होगी. फिलहाल पुलिस परिजन और आसपास के लोग इस मामले की जांच पड़ताल कर ‌रहे हैं..

Read Also: