नहीं रहे समाजवादी नेता मुलायम सिंह यादव, 82 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

सपा संरक्षक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (Samajwadi leader Mulayam Singh Yadav) का आज सोमवार सुबह निधन हो गया. आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव 82 साल के थे. मुलायम सिंह यादव को यूरिन संक्रमण, ब्लड प्रेशर की समस्या और सांस लेने में तकलीफ के चलते पिछले दिनों गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था. ऐसा बताया जा रहा था कि उनकी तबीयत लगातार नाजुक बनी हुई थी.

मुलायम सिंह यादव के भर्ती होने के बाद से अस्पताल में नेताओं के मिलने का सिलसिला लगातार जारी था. रविवार को नेताजी का हाल जानने के लिए रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया मेदांता अस्पताल पहुंचे थे. वही इससे पहले आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी अस्पताल पहुंच कर अखिलेश यादव से मुलाकात की और मुलायम सिंह यादव की तबीयत के बारे में पूछा..

इतना ही नहीं बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव से बात कर मुलायम सिंह यादव के स्वास्थ्य की जानकारी ली. पीएम मोदी अखिलेश यादव को आश्वासन दिया था कि वह हर संभव मदद और सहायता देने के लिए मौजूद है.

किसान परिवार में जन्मे थे मुलायम सिंह यादव
आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव का जन्म 22 नवंबर 1939 को इटावा जिले के सैफई गांव में हुआ था. मुलायम सिंह यादव मौजूदा वक्त में मुलायम सिंह मैनपुरी सीट से लोकसभा सांसद है. उत्तर प्रदेश की राजनीति हो देश की राजनीति मुलायम सिंह यादव को प्रमुख नेताओं में गिना जाता है. इतना ही नहीं बल्कि वह तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और केंद्र सरकार में रक्षा मंत्री के पद पर भी रह चुके हैं. इसके अलावा मुलायम सिंह 8 बार विधायक और 7 बार लोकसभा सांसद भी चुने जा चुके हैं।