कोई नहीं भरता घी, फिर भी 21 सालों से जल रहा है यह ज्योति, इस मंदिर के चमत्कार को देख वैज्ञानिक भी हुए हैरान

हमारे भारत देश में ऐसे-ऐसे मंदिर स्थित हैं जिनकी विशेषता और उनके रहस्य जानने के बाद लोग आश्चर्यचकित रह जाते हैं. इतना ही नहीं बल्कि वैज्ञानिक भी इन मंदिर के चमत्कारों के आगे हार मान गए हैं. आज तक वैज्ञानिक भी उनके रहस्य के बारे में पता लगाने में असफल रहे हैं. जैसा कि हम सब जानते हैं चैत्र नवरात्रि का महीना चल रहा है इन पवित्र दिनों में देश भर मैं माता के मंदिरों में भक्तों की भारी भीड़ इकट्ठा होती है.

no-one-fills-ghee-yet-this-flame-is-burning-for-21-years-scientists-were-also-surprised-to-see-the-miracle-of-this-temple-okk

नवरात्रि में माता का दरबार बहुत खूबसूरत सजाया जाता है पिछले साल कोरोना से महामारी की वजह से दर्शक माता के दरबार में जाने में असमर्थ रहे थे लेकिन पूरे 2 साल के बाद के पाबंद हटने के बाद भारी मात्रा में लोग माता के मंदिरों में दर्शन के लिए पहुंच रहे हैं. इतना ही नहीं भक्तों में काफी उत्साह भी देखने को मिल रहा है.

आज हम आपको नवरात्रि के मौके पर झंझौन गांव में स्थित माता मंदिर की कहानी के बारे में बताएंगे जिसे जानने के बाद आप आश्चर्यचकित रह जाएंगे. यह धार्मिक स्थल आस्था के साथ कई परंपराओं को संजोए हुए हैं तो आइए जानते हैं इस मंदिर के बारे में..

no-one-fills-ghee-yet-this-flame-is-burning-for-21-years-scientists-were-also-surprised-to-see-the-miracle-of-this-temple-okk

गुना गांव के झुनझुन गांव में स्थित माता के दरबार में एक रहस्यमई ज्योति है जिसके बारे में ऐसा कहा जाता है कि यह पिछले 21 सालों से जल रही है और सबसे ज्यादा हैरान कर देने वाली बात तो यह है कि इसमें ना कोई भी घी भरता है और ना ही बत्ती लगाता है फिर भी यह अखंड ज्योति पिछले 21 सालों से जल रही है. ऐसा भी बताया जाता है कि इस मंदिर में 21 साल पहले नवरात्रि के समय गांव के बच्चों ने पैसे जुटाकर मां दुर्गा की झांकी सजाई थी और 9 दिन तक ज्योति जलाई.

यहां के लोगों ने यह दावा किया है कि नवरात्रि के समापन के बाद यह ज्योति लगातार जलती रही. ग्रामीण अचरज में पड़ गए हैं यह ज्योति अपने आप कैसी जल रही है इसमें घी आखिरकार आता कहां से है. इसके बाद कई अधिकारी और वैज्ञानिक ने भी इस बात की परख करने के लिए कहां पहुंचे लेकिन इस रहस्य का खुलासा नहीं लगा पाए. मान्यता है कि लगातार 21 सालों से ज्योति जल रही है.  इस संबंध में गांव के लोगों का ऐसा कहना है कि भगवान शिव और मां शक्ति की कृपा से ऐसा हो रहा है और वह यहां साक्षात विराजमान है.

no-one-fills-ghee-yet-this-flame-is-burning-for-21-years-scientists-were-also-surprised-to-see-the-miracle-of-this-temple-okk

मंदिर के पुजारी हरिओम का ऐसा कहना है कि कटोरी में घी आ जाता है दीए की बाती भी लगभग रोज बदली हुई दिखाई देती है. गांव के लोगों ने भी इसकी परख करने की कोशिश की लेकिन अभी तक सफल नहीं हो पाए. इतना ही नहीं दूर दूर से लोग इस दिव्य ज्योति के दर्शन के लिए आते हैं और अपनी मनोकामना लेकर मां दुर्गा और और भगवान शिव से प्रार्थना करते हैं.