50 वें जन्मदिन पर मां को कराई हेलीकॉप्टर की सैर, पूरा किया मां का वर्षों पुराना सपना

मां और बेटे का रिश्ता इस दुनिया में सबसे पवित्र रिश्ता माना जाता है. मां अपने बच्चे को जन्म देती है और बचपन से लेकर जब तक वह जीवित रहती है तब तक अपने बच्चे का ख्याल रखती है. बच्चे भी अपनी मां से बेहद प्यार करते हैं और उनके लिए कुछ भी कर गुजरने को तैयार रहते हैं.

इसे भी पढ़ें-: मजदूरी करके चलाती थी घर, इनकम टैक्स विभाग ने मारा छापा तो निकली 100 करोड़ की मालकिन

एक ऐसा ही मामला महाराष्ट्र के ठाणे जिले के उल्हासनगर इलाके से आया है जहां एक बेटे ने अपनी मां की 50 वे जन्मदिन पर हेलीकॉप्टर पर घुमा कर उसका वर्षों पुराना सपना साकार किया. बता दे कि यह कहानी रेखा गरण नाम की महिला की है जो उल्हासनगर में रहती हैं. उनका वर्षों का सपना था कि वह हेलीकॉप्टर में बैठे और सैर करें. ऐसे में उनके बेटे प्रमोद ने उनकी 50 वें जन्मदिन पर उनकी हर मनोकामना पूरी की.

इसे भी पढ़ें-: नहीं थे चालान भरने के पैसे, बेटे का गुल्लक ले आया रिक्शावाला, उदार इंस्पेक्टर ने खुद भरा चालान

प्रमोद ने जुहू एयर बेस पर हेलीकॉप्टर का प्रबंध किया है और अपनी मां को सिद्धिविनायक मंदिर के दर्शन कराने के बहाने जुहू एयरवेज पर लाया और हेलीकॉप्टर में शहर की सैर करवाई. रेखा गरण अपने सपने को पूरा होता देख फूले नहीं समा रही थी. प्रमोद ने बताया कि जब सातवीं कक्षा में था तभी उसके पिता का देहांत हो गया. उसकी मां ने दूसरों के घर में बर्तन झाडू करके हमें पाला पोसा और पढ़ाया.

इसे भी पढ़ें-: 20 महीने की इस मासूम बच्ची ने 5 लोगों को दी नई जिंदगी, सबसे कम उम्र में किया अंगदान

मैंने अपनी मां के संघर्षों को देखा है एक दिन मां ने छत पर उड़ते हुए हेलीकॉप्टर को देखकर कहा.. काश मैं इस पर बैठती.. तभी मैंने ठान लिया कि मैं अपनी मां की इच्छा जरूर पूरी करूंगा. इसलिए मैंने मेहनत से पढ़ाई की और अच्छी नौकरी हासिल की ताकि मैं अपनी मां का सपना पूरा कर सकूं और आज मैंने उनका यह वर्षों पुराना सपना पूरा कर दिया. वही रेखा जी ने भावुक होते हुए कहा कि ऐसा बेटा सिर्फ किस्मत वालों को ही मिलता है.

इसे भी पढ़ें-: उम्र 181 साल.. मौ’त भूल गई है इनके घर का रास्ता, मौ’त के लिए रोज तड़प’ता है यह बुजुर्ग