14 साल की उम्र में शादी, 18 की उम्र में बन गई थी मां, लेकिन मेहनत के दम पर बनी IPS अधिकारी

आईपीएस एन अंबिका: इंसान अपने जीवन के दौरान बहुत सारे संघर्ष करता है और जो इंसान संघर्षों से लड़कर जीना सीख लेता है. वह जीवन में कुछ ना कुछ हासिल जरूर करता है हमारे बड़े बुजुर्गों ने कहा है यदि सच्चे मन से हम अपने लक्ष्य के पीछे भागते हैं तो एक ना एक दिन हम अपने लक्ष्य को अवश्य प्राप्त करते हैं. आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से एक ऐसी आईपीएस अधिकारी के बारे में बताने जा रहे हैं.

Read Also: बुजुर्ग पिता ने संजोया था सपना, मृत्यु हुई तो बेटे ने श्राद्ध भोज के बजाय गांव के लिए बनवाया पुल

जिसकी महज 14 साल की उम्र में उनकी शादी रचा दी गई और 18 साल की उम्र में बच्चों की मां बन गई लेकिन आपको जानकर गर्व होगा कि अपने बलबूते पर इस महिला ने यूपीएससी की तैयारी की और आईपीएस बनकर देश के लिए एक मिसाल पेश की. आज हम आपको इस पोस्ट के जरिए आईपीएस एन अंबिका के संघर्ष भरी कहानी के बारे में रूबरू कराने जा रहे हैं.

Read Also: एक सास ऐसी भी: 11 बहुओं ने सास को ही माना भगवान, सोने के गहने पहनाकर रोज करती हैं पूजा

बता दे जब अंबिका के उम्र महज 14 वर्ष थी उसी समय उनकी शादी एक कॉन्स्टेबल के साथ कर दी गई उसी समय अंबिका ने भी सोच लिया था कि अब उनका जीवन घर की चारदीवारी में ही गुजर जाएगा. यहां तक कि उस समय उनके दिमाग में आईएएस आईपीएस जैसे ख्याल भी नहीं आते थे और 18 वर्ष के होते होते उन्होंने बच्चे को जन्म दे दिया. एक वह दौर था और एक आज का दौर है आज अंबिका को लेडी सिंघम के नाम से भी जानी जाती है लेकिन वह दौर अंबिका के लिए काफी संघर्ष भरा रहा था.

Read Also: UP के छोटे इस गांव से आए राजपाल यादव, आज है करोड़ों की प्रॉपर्टी के मालिक, जी रहे है आलीशान जिंदगी

एक बार अंबिका अपने कॉन्स्टेबल पति के साथ परेड देखने गई थी वहां पर उन्होंने देखा कि इनके पति उच्च अधिकारियों के सामने परेड कर रहे थे. बस यही से अंबिका के अंदर प्रेरणा जगी और उन्होंने सोच लिया कि वह भी आगे चलकर एक बड़ी अधिकारी बनेगी. इसके लिए सबसे पहला गुरु उनके अपने पति को बनाया और पूछा कि आखिर के उच्च अधिकारी कैसे बनते हैं. उस समय उनके पति को भी उनकी बातों पर यकीन नहीं था लेकिन इनके पति ने इनके जीवन को लेकर अच्छा चाहते थे. उनकी सारी जानकारी दी और फिर इन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी.

Read Also: पत्नी की मौ’त के 5 साल बाद 71 साल के शख्स ने की दोबारा शादी, बेटी ने तस्वीर शेयर कर सुनाया किस्सा

आपको जानकर हैरानी होगी कि अंबिका ने आईपीएस बनने के बारे में कभी नहीं सोचा था. उस समय वह दसवीं कक्षा भी पास नहीं थी लेकिन उन्होंने आईपीएस बनने के लिए ठान लिया. उसी समय उन्होंने प्राइवेट स्कूल में दसवीं और बारहवीं की परीक्षा पास की इसके बाद ग्रेजुएशन और फिर शुरू हुई इनकी यूपीएससी के सफर की शुरुआत. अंबिका के लिए याद और बिल्कुल भी आसान नहीं था लेकिन उस दौर में भी एक शख्स था जो इनके साथ हर पल खड़ा रहता था . यहां तक कि एक समय पर अच्छी तैयारी के लिए चेन्नई भेज दिया और खुद ही बच्चों की देखभाल करने लगे. अंबिका ने चेन्नई से यूपीएससी की तैयारी की और फिर एग्जाम देने का मौका मिला.

Read Also: मुंहबोला भाई बनकर DSP साहब ने गरीब बिटिया की धूमधाम से कराई शादी, निभाई सारी रस्में, उठाया शादी का पूरा खर्चा

अंबिका को एक दो बार में नहीं बल्कि तीसरी बार में सफलता मिली थी. साल 2008 में अंबिका ने यूपीएससी की परीक्षा पास करके अपने मेहनत के दम पर सबको दिखा दिया कि अगर इंसान अपने जीवन में कुछ करने को ठान ले तो एक ना एक दिन वह अपने लक्ष्य को प्राप्त अवश्य करता है. आपको बता दे कि आज अंबिका मुंबई के जौन 4 में डीजीपी के पद पर कार्यरत हैं इतना ही नहीं इन्हें वहा लेडी सिंघम के नाम से भी जानी जाती है. वाकई अंबिका की कहानी प्रेरणादायक है और आज हर कोई उन्हें अपना आदर्श मानता है.