रईसी के मामले में अंबानी को भी कड़ी टक्कर देते हैं मलयालम अभिनेता ममूटी, 369 कारों का है कलेक्शन

मलयालम सिनेमा के सुपरस्टार ममूटी बेहद प्रतिभाशाली और शानदार अभिनेता हैं। ममूटी का जन्म 7 सितंबर 1951 में हुआ था। उनका असल नाम मोहम्मद कुट्टी पनिपरमबिल इस्माइल है। इस अभिनेता ने लगभग सिनेमा की हर फ्लेवर फिल्मों में काम किया है। कभी वो कॉमेडियन के रूप में दर्शकों को गुदगुदाते नज़र आए तो कभी हीरोइन के साथ रोमांस करते हुए दर्शकों को रोमांस का पहाड़ा सिखाते दिखाई दिए। ममूटी नें अब तक 400 फिल्मों में काम किया है जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है।

यह भी पढ़ें-: किसी सेलिब्रिटी से कम नहीं जीती है मशहूर एंकर अंजना ओम कश्यप, जानिए कितनी संपत्ति की हैं मालकिन!

किंग साइज़ लाइफस्टाइल के मालिक हैं ममूटी-: अभिनेता ममूटी की लाइफ स्टाइल इंडिया के सबसे धनाढ्य लोगों में से एक है।उन्होंने सिल्वर स्क्रीन पर अपनी एक्टिंग का जलवा इस तरह बिखेरा है कि लोग उनके दीवाने हैं। ममूटी शुरुआत में वकील बनना चाहते थे लेकिन उन्होंने वकालत छोड़ कर फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा और पहली ही फिल्म से वह दर्शकों के चहेते बन गए। ममूटी ने कई फिल्मों में डबल रोल किया है जिससे उनकी काफी प्रशंसा होती है।

यह भी पढ़ें-: ये 7 भारतीय खिलाड़ी करोड़ो की कमाई के बाद भी, करते है सरकारी नौकरी

साउथ के अमीर एक्टर्स में शुमार है ममूटी-: ममूटी साउथ के अमीर अभिनेताओं में से एक हैं। ईटाइम्स की रिपोर्ट की माने तो ममूटी करीब 300 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक हैं। इसके अलावा हैदराबाद चेन्नई तिरुअनंतपुरम जैसे बड़े-बड़े शहरों में उनकी बहुत सारी प्रॉपर्टीज हैं। ममूटी को अब तक सात बार केरल राज्य फ़िल्म पुरस्कार द्वारा सम्मानित किया जा चुका है। उनके नाम 13 फिल्म फेयर अवार्ड भी है।

यह भी पढ़ें-: कौन है रतन टाटा के कंधे पर हाथ रखने वाला ये शख्स? असलियत जान चौड़ी हो जाएंगी आपकी आंखें

रखी है 369 गाड़ियों की फ्लीट -: एक्टर ममूटी गाड़ियों के बेहद शौकीन हैं। उन्होंने करीब 369 गाड़ियों का कलेक्शन करके रखा हुआ है जिसमें कई बड़ी और महंगी आलीशान कारें शामिल हैं।ममूटी अपनी लाइफ को किंग साइज़ लाइफ स्टाइल में जीने में यक़ीन रखते हैं। उनका लकी नंबर 369 है। उनकी कई गाड़ियों पर यह नंबर लिखा हुआ है। लैविश गाड़ियों का शौक़ रखने वाले ममूटी अपनी गाड़ियों को खुद ड्राइव करना पसंद करते हैं।

यह भी पढ़ें-: कहानी उस कुली की, जिसने रेलवे स्टेशन के फ्री Wi-Fi से पढ़कर दी UPSC की परीक्षा और बन गया IAS ऑफिसर