अगर आपकी बॉडी में हो रहे हैं यह बदलाव तो हो जाएं सावधान, होता है किडनी खराब होने का संकेत

हमारा शरीर एक मशीनरी की तरह काम करता है। कोई एक भी परेशानी हो तो हमारे समूचे शरीर की व्यवस्था गड़बड़ा जाती है। लेकिन कई बार हमारा शरीर हमें बीमारी होने से पहले ही संकेत देता है अगर समय से पहले हम इन संकेतों को समझ ले तो एक बड़ी बीमारी से भी बचा जा सकता है। आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि जब किसी व्यक्ति की किडनी खराब होने वाली होती है तो उसका शरीर कैसे रिएक्ट करता है।

यह भी पढ़ें-: अगर आप भी खाते हैं बासी खाना तो हो जाए सावधान, नहीं तो हो सकती हैं यह गंभीर बीमारी

शरीर का फिल्टर होता है किडनी-: जैसे हृदय को रक्त का पंपिंग मशीन कहा जाता है वैसे ही किडनी को हमारे शरीर का पंपिंग मशीन कहा जाता है। यह किडनी हमारे शरीर में यूरिया, क्रिएटिनिन एसिड और नाइट्रोजन युक्त विषाक्त पदार्थों को हमारे रक्त से बाहर निकालने का जिम्मेदार होता है। कई बार हमें चोट लगने हाई ब्लड प्रेशर या डायबिटीज की वजह से किडनी पर असर पड़ता है। इसकी वजह से किडनी ढंग से काम नहीं करती जो हमारे सेहत के लिए बेहद खतरनाक मानी गई है। इसीलिए किडनी की बीमारी को साइलेंट किलर भी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें-: खूबसूरती में ऐश्वर्या राय बच्चन से भी दो कदम आगे हैं उनकी भाभी, कुछ ऐसा है दोनों का रिश्ता, देखें तस्वीरें

हर समय पेट भरा हुआ महसूस होना-: जब हमारे से किडनी ठीक ढंग से काम नहीं करती हमारे शरीर में विषाक्त और वेस्ट चीजों का संचय होने लगता है जो टॉक्सिक मटेरियल के रूप में इकट्ठा होने लगते हैं जिसकी वजह से रक्त का बॉडी में सरकुलेशन ठीक ढंग से नहीं हो पाता और शरीर में वेस्ट मटेरियल इकट्ठा रहने की वजह से हमेशा पेट भरा हुआ महसूस होता है।

यह भी पढ़ें-: 52 साल की उम्र में भी बेहद खूबसूरत दिखती है भाग्यश्री, रहती हैं इस आलीशान महल में, देखें तस्वीरें

टखने और घुटने में सूजन-: जब किडनी शरीर से कई विषाक्त पदार्थों और सोडियम को सही ढंग से फिल्टर नहीं कर पाती तो यह सोडियम शरीर के हड्डियों के जोड़ों में इकट्ठा हो जाते हैं। जिसकी वजह से हमारे घुटनों टखनों और जोड़ों में सूजन हो जाती है जो हमारे शरीर के लिए खतरनाक होता है.

त्वचा में रूखापन और खुजली-: जब किडनी सही ढंग से काम नहीं करती तो विषाक्त और अपशिष्ट पदार्थ त्वचा के माध्यम से बाहर निकलने का प्रयास करते हैं। जो हमारी त्वचा को रूखी सुखी और बेजान बना देते हैं। यह भी किडनी के संक्रमित होने के लक्षण है।

यह भी पढ़ें-: पवनदीप की बहन की शादी में अरूणिता कांजीलाल ने लूटी महफिल, शादी में लगाया ग्लैमर का तड़का

ज्यादा पेशाब आना-: एक सामान्य व्यक्ति दिन भर में करीब 5 से 6 बार पेशाब जाता है। लेकिन इससे ज्यादा पेशाब आना भी किडनी के खराब होने की निशानी है। कई लोगों के पेशाब में खून भी आता है जो किडनी में पेशाब की नलियों में ब्लड सेल्स के रिसने की वजह से होता है। अगर इसका सही समय पर इलाज न किया गया सेहत के लिए घातक होता है और व्यक्ति की जान भी जा सकती है। अगर आपको ही मिलते हैं यह संकेत तो सतर्क हो जाएं और तुरंत किसी अनुभवी और अच्छे डॉक्टर से इसकी जांच कराएं। समय पर कराया गया इलाज व्यक्ति की जान बचा सकता है।