घर-घर फ़ेरी लगाकर साबुन और ब्यूटी प्रोडक्ट्स बेचते थे बैडमैन, बेहद गरीबी में गुजरा इनका बचपन..

बॉलीवुड की ग्लैमर भरी दुनिया में एक से बढ़कर एक आईकॉनिक विलन हुए हैं। जिसमें अमरीश पुरी, शक्ति कपूर, रजा मुराद, डैनी डेंजोंगपा जैसे बड़े नाम शामिल है। लेकिन उनमें भी एक नाम और शामिल है बॉलीवुड के बैड मैन यानी गुलशन ग्रोवर।

अपनी डरावनी आंखों और डरा देने वाली एक्टिंग एक समय में गुलशन ग्रोवर बॉलीवुड के सबसे ज्यादा डिमांडेड विलेन बन गए थे। लेकिन इनका बचपन बेहद गरीबी में गुजरा था।

नहीं थे स्कूल फीस भरने के पैसे-: गुलशन ग्रोवर का जन्म 21 सितंबर 1955 को दिल्ली में हुआ था। आज यह भले से ही 66 साल के हो गए हैं लेकिन इन्होंने अपने आपको खूब मेंटेन करके रखा हुआ है। लेकिन एक समय ऐसा भी था जब इनके पास स्कूल फीस भरने के पैसे नहीं हुआ करते थे। तब यह नई दिल्ली शहर के बड़ी-बड़ी कोठियों में जाकर कपड़े धोने के साबुन बेच कर अपने स्कूल की फीस भरा करते थे।

ऑटो बायोग्राफी में किया खुलासा-: अपनी ऑटोबायोग्राफी बैडमैन गुलशन ग्रोवर ने यह बताया कि उनका स्कूल दोपहर में होता था। वह अपने बस्ते में स्कूल की ड्रेस रखा करते थे। वह सुबह से दोपहर तक कपड़े धोने के साबुन बेचते थे और दोपहर होते ही स्कूल चले जाया करते थे।

गुलशन ग्रोवर पढ़ने में काफी तेज तर्रार थे। उन्होंने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से ग्रेजुएशन किया है। वह अपने कॉलेज के दौरान ही नाटकों और थिएटर्स में हिस्सा लेते रहते थे। ग्रेजुएशन पूरी होने के बाद वह मुंबई चले आए। मुंबई आकर उन्होंने एक्टिंग स्कूल ज्वाइन किया लेकिन थोड़े ही दिनों बाद वह दूसरों को एक्टिंग की बारीकियां सिखाने लगे।

आज भी एक्टिव है बैडमैन-: गुलशन ग्रोवर को बॉलीवुड में काम करते हुए करीब 42 साल हो गए। लेकिन वह आज भी उसी एनर्जी के साथ फिल्मों में एक्टिव है। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत फिल्म “हम पांच” से की जो 1980 में रिलीज हुई थी।

उसके बाद गुलशन ग्रोवर ने रॉकी, रामलखन, सदमा जैसी फिल्मों में अपनी अदाकारी का लोहा मनवाया। वह हाल ही में अक्षय कुमार की फिल्म सूर्यवंशी में एक मौलाना के किरदार में नजर आए थे।

यह भी पढ़े-: