18 मुस्लिमों ने गोमूत्र से नहाकर अपनाया हिंदू धर्म, मोहम्मद बने रामसिंह तो शबनम बनीं सरस्वती

इन दिनों धर्मांतरण का मामला कई जगह सामने आ रहा है। इन सब मामलों में भारत का मध्य प्रदेश राज्य का नाम सुर्खियों में है। धर्मांतरण को लेकर मध्यप्रदेश में यह दूसरी बड़ी घटना है जहां एक परिवार के 15 सदस्यों ने इस्लाम धर्म को छोड़कर हिंदू धर्म अपनाया।

जानते हैं पुरा मामला-:

परिवार की 15 सदस्यों की इस्लाम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म में परिवर्तित होने के साथ थी अब इनका नाम भी बदल गया है। परिवार के मुखिया जो मोहम्मद हुआ करते थे अब उनका नाम राम सिंह हो गया है। मध्य प्रदेश के भीमा नाथ शिव मंदिर में शिव पुराण की अंतिम आहुति के साथ ही मंदिर के पुजारी महाराज गिरिजा नंद ने परिवार के सभी सदस्यों का धर्मांतरण करा दिया दिया। मंदिर के बने पवित्र कुंड में गौ मूत्र और गोबर से स्नान कराया गया और जनेऊ धारण करवाया गया.

लिया गया शपथ पत्र-:

इन परिवार की सदस्यों को इस्लाम धर्म से हिंदू धर्म में आने के लिए बाकायदा एक शपथ पत्र भी लिया गया। जिसमें इन्होंने लिखा यह अपनी मर्जी से अपना धर्म परिवर्तन कर रहे हैं और इन पर कोई दबाव नहीं डाला जा रहा है। परिवार की मुखिया मोहम्मद कई बार मंदिर जाकर मुख्य पुजारी महाराज गिरिजानन्द से धर्म परिवर्तन करने की बात कह चुके थे।

मध्य प्रदेश का दूसरा बड़ा मामला-:

मध्य प्रदेश में धर्मपरिवर्तन का 13 दिनों दूसरा बड़ा मामला है। इसकी पहले मंदसौर की निवासी से जफर भी अपना धर्म परिवर्तन करा चुके हैं। उन्होंने भगवान पशुपतिनाथ जी के मंदिर में मुख्य पुजारी के सानिध्य में अपना धर्म परिवर्तन कराया। जफर अब चेतन सिंह राजपूत के नाम से जाने जाते हैं। उनकी पत्नी पहले से ही हिंदू धर्म से ताल्लुक रखती थी।

Read Also: